ब्राम्हण का भारत में योगदान

User Rating: 0 / 5

Rating Star BlankRating Star BlankRating Star BlankRating Star BlankRating Star Blank
 

: ऊँ 

 ब्राह्मण निर्धन होगा तो बनेगा

" सुदामा "

 फिर एक दिन "श्री कृष्ण" उसकी

सेवा करेंगे !

 

 ब्राह्मण अपमानित होगा तो बनेगा

" चाणक्य "

 फिर एक दिन नये राज्य कि

स्थापना कर देगा !

 

 ब्राह्मण सठिया जायेगा तो बनेगा

" परशुराम "

 फिर एकदिन पापियों का विनाश

कर देगा !

 

 ब्राह्मण पढ़ेगा तो बन जायेगा

" आर्यभट्ट "

 फिर एक दिन पुरे विश्व को

0 ( ZERO ) दे जायेगा !

 

 ब्राह्मण जब वेद धर्म का विनाश

देखेगा तो बन जायेगा 

" आदि शँकराचार्य "

 फिर एक दिन वैदिक धर्म कि

स्थापना कर देगा !

 

 ब्राह्मण जब लोगों को बीमार 

देखेगा तो बन जायेगा 

" चरक "

 फिर एक दिन पुरे विश्व को

आर्युवेद दे जायेगा !

 

 ब्राह्मण ने हमेशा अपने ज्ञानके

प्रकाश से विश्व को प्रकाशित किया !

 

सतसत प्रणाम है

ब्राह्मण समाज को ...............

 

कुछ बात है कि हस्ती

मिटती नही हमारी 

 

Dedicated 2 All Brahmans

 

 ब्राह्मण धर्म

 वेद

 

 ब्राह्मण कर्म

 गायत्री

 

 ब्राह्मण जीवन

 त्याग

 

 ब्राह्मण मित्र

 सुदामा

 

 ब्राह्मण क्रोध

 परशुराम

 

 ब्राह्मण त्याग

 ऋषि दधिची

 

 ब्राह्मण राज

 बाजीराव पेशवा

 

 ब्राह्मण प्रतिज्ञा

 चाणक्य

 

 ब्राह्मण बलिदान

 मंगल पाण्डेय 

चन्द्र शेखर आज़ाद

 

 ब्राह्मण भक्ति

 रावण

 

 ब्राह्मण ज्ञान

 आदि गुरु शंकराचार्य

 

 ब्राह्मण सुधारक

 महर्षि दयानंद

 

 ब्राह्मण राजनीतिज्ञ

 कोटिल्य

 

✨ ब्राह्मण विज्ञान

 

भगवती के ५१ प्रमुख शक्तिपीठ...
Virendra Tiwari

॥ ॐ दुं दर्गायॆ नम: ॥
॥ भगवती के ५१ प्रमुख शक्तिपीठ ॥
**********

1. कि [ ... ]

अधिकम् पठतु
चंडी देवी मंदिर, चंडीगढ़, पंचकुला ‍‍...
Virendra Tiwari

चंडी देवी मंदिर, चंडीगढ़, पंचकुला

#इसीमंदिरकेनामपररखागया [ ... ]

अधिकम् पठतु
पितृपक्ष की हकीकत
Virendra Tiwari

#जो_पितृपक्ष को दिखावा कहते हैं उनके लिए। हमारे #पितर और हम [ ... ]

अधिकम् पठतु
संघ शाखा लगाने की पद्धति...
Virendra Tiwari

🙏गुरु पुर्णिमा महोत्सव🙏
२७/०७/२०१८/- शुक्रवार
------------------------------- [ ... ]

अधिकम् पठतु
महाभारत के युद्ध में भोजन प्रबंधन...
Virendra Tiwari

*🔥।। महाभारत के युद्ध में भोजन प्रबंधन।।🔥*

*महाभारत को हम  [ ... ]

अधिकम् पठतु
राम रक्षा स्त्रोत को पढकर रह सकते हैं भयमुक्त...
Virendra Tiwari

राम रक्षा स्त्रोत को ग्यारह बार एक बार में पढ़ लिया जाए तो  [ ... ]

अधिकम् पठतु